दिल की सलामती के लिए जानिए कैसे रखें अपना खास ख्याल

0
1059

लखनऊ। मेदांता अस्पताल के हृदय रोग विभाग के निदेशक डॉ. पी. के. गोयल ने बताया कि सबसे पहले अपने दिल को जानें और मधुमेह, कोलेस्ट्राल, ब्लड प्रेशर और वजन का ध्यान रखें। उन्होंने कहा कि ऐसा भोजन करना चाहिए जो कि दिल को नुकसान न पहुंचाए। उन्होंने दैनिक व्यायाम करने, तनाव मुक्त रहने, छोटे-छोटे बदलाव के साथ जीने तथा किए जाने वाले बदलाव का दूसरों से जिक्र करने की सलाह दी ताकि दूसरे लोग भी दिल की बीमारियों के प्रति जागरूक बनें। प्रदेश के आयुष पद्धति के चिकित्सकों के साथ आयोजित इस संगोष्ठी का मुख्य उद्देश्य यह रहा कि इस तरह की महत्वपूर्ण जानकारी आम जन तक पहुंचाई जा सके।

विश्व हृदय दिवस के उपलक्ष्य में शनिवार को ख़ुशी फॉउण्डेशन और मेदांता अस्पताल के संयुक्त तत्वावधान में स्वस्थ हृदय पर विशेष संगोष्ठी आयोजित की गई। संगोष्ठी के मुख्य वक्ता मेदांता अस्पताल के हृदय रोग विभाग के निदेशक डॉ. पी. के. गोयल ने लोगों को हृदय रोगों से बचाव के बारे में महत्वपूर्ण जानकारी दी। इसके अलावा दिल की बीमारियों और उनकी रोकथाम के बारे में जागरूकता बढ़ाने पर जोर दिया।

डॉ. गोयल ने विश्व स्वास्थ्य संगठन की ओर से तय की गयी हृदय दिवस की थीम ‘हर दिल के लिए दिल का उपयोग करें’ विषय पर अपने विचार रखे। इस दौरान मेदांता अस्पताल के आलोक खन्ना ने बताया कि आजकल की भागदौड़ भरी ज़िन्दगी एवं लोगों को फिट रखने के लिए मेदांता अस्पताल एवं खुशी फॉउण्डेशन द्वारा इस तरह की और भी संगोष्ठियां आयोजित की जाती रहेंगी। उन्होंने कहा कि अभी यह संगोष्ठी लखनऊ में आयोजित की गयी है लेकिन भविष्य में इसे प्रदेश के अन्य शहरों में भी आयोजित किया जाएगा।

खुशी फॉउण्डेशन की तरफ से उपस्थित ऋचा द्विवेदी ने कहा कि आजकल अधिकतर लोग भागदौड़ एवं तनाव भरी ज़िन्दगी में अपने स्वास्थ्य की तरफ ध्यान नहीं दे पाते हैं। इसी को ध्यान में रखते हुए हेल्थ टॉक मेदांता अस्पताल के सहयोग से आयोजित की गयी है और भविष्य में भी इसी तरह की संगोष्ठियां आयोजित की जाती रहेंगी।