श्रीकाशी विश्वनाथ धाम में न धूप लगेगी, न जलेंगे पांव

0
733

वाराणसी। महादेव के भक्तों को बाबा के दरबार में पहुंचने में कोई परेशानी न हो इसके लिए योगी सरकार ने हर तरह के प्रबंध किये हैं। चिलचिलाती धूप और तापमान से जलती जमीन से श्रद्धालुओं को बचाने के लिए योगी सरकार श्रीकाशी विश्वनाथ धाम के विस्तारित आंगन में मैट बिछवाकर जर्मन हैंगर से छांव की व्यवस्था करा दी है। वहीं उमस भरी गर्मी में एयर कूलर से बाबा के भक्तों को सावनी फुहार जैसी राहत मिल रही है। श्रीकाशी विश्वनाथ धाम के विस्तारित आंगन में भक्तों के लिए वाटर कूलर की भी व्यवस्था की गई है। बाबा की भक्ति में डूबे भक्तों को जर्मन हैंगर बरसात में भी बारिश से भींगने से बचाएगा।

नव्य, भव्य श्रीकाशी विश्वनाथ धाम में दूर-दूर से आने वाले श्रद्धालुओं की संख्या दिन प्रति दिन बढ़ती जा रही है। बाबा के भक्तों को सुगम दर्शन के लिए उत्तर प्रदेश की योगी सरकार लगातार प्रयास कर रही है। प्रचंड गर्मी और चिलचिलाती धूप में बाबा के भक्तों को धाम में एयर कूलर के फुहार से सावन का एहसास हो रहा है। इससे श्रद्धालुओं को गर्मी से काफी राहत मिल रही है।

श्रीकाशी  विश्वनाथ धाम के एसडीएम शम्भू शरण ने बताया कि तापमान बढ़ने से श्रद्धालुओं को काफी परेशानी हो रही थी। इसके चलते कतार में लगने वाले श्रद्धालुओं को धूप लग रही थी, वहीं तपन से फर्श पर पांव जल रहे थे और उमस भरी गर्मी से श्रद्धालुगण बेहाल हो रहे थे। इसके लिए मंदिर प्रशासन ने गंगाधर (गंगा द्वार) से मंदिर चौक परिसर होते हुए मंदिर जाने तक वाले मार्ग पर जर्मन हैंगर, कैनोपी, मैट, 10 वाटर कूलर, 22 इंडस्ट्रियल एयर कूलर लगवाया है, जिससे देश के कोने-कोने से आने वाले बाबा के भक्तों को काफी राहत मिल रही है।

एसडीएम शम्भू शरण ने बताया कि श्रीकाशी विश्वनाथ धाम में लगा अस्थाई जर्मन हैंगर बरसात तक रहेगा। गर्मी से बचाव के साथ ही बारिश में भी भक्तों को भीगने से बचाएगा। योगी सरकार देवाधिदेव महादेव के भक्तों को सुगम दर्शन सुरक्षा और सुविधा देने के लिए पहले दिन से ही कटिबद्ध है।