वाराणसी के विकास मॉडल को देख सकेंगे पर्यटक

0
91

वाराणसी। काशी का पौराणिक महत्व पर्यटकों को हमेशा से अपनी ओर आकर्षित करता रहा है। 2017 के बाद से काशी अपने नए रूप में दिखने लगी है। श्रीकाशी विश्वनाथ धाम के नव्य और भव्य स्वरूप को लोग देखना चाहते है। काशी के कायाकल्प के बाद हर कोई काशी के विकास से रूबरू होना चाहता है। वाराणसी में सुविधाओं का विस्तार हुआ है। काशी के विकास मॉडल को देखकर और सैलानियों  की मांग पर इंडियन रेलवे केटरिंग एवं टूरिज़्म कॉर्पोरशन लिमिटेड “दिव्य काशी यात्रा “नाम से  ट्रेन चलाने जा रही है। शुक्रवार को गुजरात सोमनाथ में नए सर्किट हाउस के उद्घाटन के अवसर पर प्रधानमंत्री ने बताया कि एक स्पेशल ट्रेन कल से दिव्य काशी यात्रा के लिए भी दिल्ली से शुरू होने जा रही है।

2014 से वाराणसी में विकास की बयार बहने लगी थी। 2017 में जब उत्तर प्रदेश में भाजपा  की सरकार बनी तो डबल इंजन की सरकार में विकास की रफ़्तार और तेज पकड़ी। दशकों से पिछड़े पूर्वांचल में पिछले सात सालों में मूल भूत सुविधाएँ समेत अन्य विकास के काम हुए। इंदौर की रानी अहिल्याबाई होल्कर के सदियों बाद वाराणसी के सांसद और भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सनातनियों के आस्था के केंद्र काशी  विश्वनाथ मंदिर को विस्तार देकर सौंदर्यीकरण और पुनरुद्धार कराया है। जिसका भव्य लोकार्पण पूरी दुनिया ने देखा। यही नहीं हर क्षेत्र में प्रधानमंत्री के संसदीय क्षेत्र वाराणसी का कायाकल्प हुआ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पांच सालों में विकास की नई  गाथा लिख डाली। पर्यटन, व्यापार, रोजगार, एग्रीकल्चर, अस्पताल, यातायात बिजली, पानी सुरक्षा समेत अन्य कई क्षेत्र में काशी ने विकास के नए-नए कीर्तिमान गढ़े। लोगों के जीवन स्तर में सुधार हुआ। बनारस की इसी विकास की गाथा को सुनकर, देखकर काशी के विकास के मॉडल को देखने के लिए पर्यटक वाराणसी की ओर आकर्षित हो रहे है।

आईआरसीटीसी के पीआरओ आनंद झा ने बताया कि प्रधानमंत्री ने शुक्रवार को इस ट्रेन के चलाए जाने के बारे में घोषणा की थी। उन्होंने बताया कि काशी देखने वाले सैलानियों की मांग पर “दिव्य काशी यात्रा” ट्रेन चलाई जा रही है। जिसका कमर्शियल संचालन दिल्ली से काशी के लिए 22 मार्च से होगा। प्रथम और द्रितीय वातानुकूलित श्रेणी में कूल 156 सीटे है। 4 रात और 5 दिन का यात्रा पैकेज़ होगा। जिसमें खाना, रहना और वाराणसी के विभिन्न प्रमुख स्थलों पर घूमना शामिल है। प्रथम श्रेणी कम्फर्ट कैटेगरी प्रति व्यक्ति 29950 और द्वितीय श्रेणी कम्फर्ट कैटेगरी में 24500 किराया होगा।