यूपी की 56% वयस्क आबादी को लग चुकी वैक्सीन की दोनों डोज

0
24

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में स्वास्थ्यकर्मियों, फ्रंट लाइन वर्करों और वरिष्ठ नागरिकों को प्री-कॉशन डोज देने का कार्यक्रम जोरों से चल रहा है। महज तीन दिनों के भीतर 1.65 लाख से अधिक लोगों को कोविड टीके की बूस्टर डोज मिल चुकी है। वहीं, 15-17 आयु वर्ग के टीकाकरण को किशोरों में उत्साह और अभिभावकों में जागरूकता का ही नतीजा है कि महज 09 दिनों में 34 लाख 25 हजार से अधिक किशोरों ने टीकाकवर ले लिया।

बता दें कि 09 करोड़ 53 लाख टेस्ट और 21 करोड़ 82 लाख से अधिक टीके की डोज लगाने वाले उत्तर प्रदेश में करीब 56% वयस्क आबादी को टीके की दोनों डोज लग चुकी है, जबकि 92% ने कम से कम एक डोज जरूर लगवा ली है। टीकाकरण को तेज करने के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने विधानसभा निर्वाचन कार्यक्रम को आधार बनाते हुए जिलों की प्राथमिकता तय की है।

टेस्टिंग बढ़ी, नए केस मिले पर स्थिति नियंत्रण में: बीते 24 घंटों में हुई 02 लाख 39 हजार 771 सैम्पल की जांच में कुल 13,681 नए संक्रमितों की पुष्टि हुई। इसी अवधि में 700 लोग उपचारित होकर कोरोना मुक्त भी हुए। वर्तमान में कुल एक्टिव केस की कुल संख्या 57355 है, इनमें से 98% से अधिक मरीज होम आइसोलेशन में स्वास्थ्य लाभ ले रहे हैं। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि ट्रेसिंग, टेस्टिंग और टीकाकरण को तेज करने के निर्देश दिए हैं। साथ ही कहा है कि लोगों में पैनिक न हों, इसलिए उन्हें सही, सटीक और समुचित जानकारी दी जाए।

उन्होंने कहा कि लोगों को बताया जाना चाहिए कि घबराने की नहीं, सावधानी और सतर्कता की जरूरत है। उन्होंने निर्देश दिए कि सभी कार्यालयों, औद्योगिक इकाइयों में कोविड हेल्प डेस्क की स्थापना अनिवार्य रूप से हो। बिना स्क्रीनिंग किसी को प्रवेश न दिया जाए। मुख्यमंत्री ने होम आइसोलेशन में उपचाराधीन लोगों से सतत संवाद बनाये रखने और मेडिकल किट पहुँचाने के निर्देश भी दिए हैं।