रामनगरी अयोध्या में होंगे आधा दर्जन भव्य दिव्य प्रवेश द्वार

0
221

अयोध्या। अयोध्या के त्रेतायुगीन वैभव को पुनर्स्थापित करने का प्रयास कर रही योगी सरकार 140 करोड़ रुपए की लागत से 6 भव्य गेट कॉम्प्लेक्से का निर्माण कराने जा रही है। योगी सरकार श्रीराम की नगरी को प्राचीन अयोध्या का स्वरूप प्रदान करने में जुटी है।‌ ऐसे में, जिस प्रकार प्राचीन राजधानियों में प्रवेश द्वार बनाए जाते थे उसी तर्ज पर अयोध्या के सभी प्रवेश मार्गों पर भव्य प्रवेश द्वार बनाए जाने की योजना तैयार की गई है। सीएम योगी की मंशा अनुसार, रामनगरी अयोध्या को विश्व की सबसे सुंदर नगरी के रूप में विकसित करने के उद्देश्य से नव्य अयोध्या फेज-2 परियोजना पर कार्य शुरू हो गया है जिसके अंतर्गत अगले 100 दिनों के अंदर पहले चरण में 3 भव्य गेट कॉम्प्लेक्स के निर्माण की प्रक्रिया यूपी प्रोजेक्ट कॉर्पोशन लिमिटेड ने शुरू कर दी है। पहले फेज में फिलहाल लगभग 45 करोड़ रुपए की लागत से अयोध्या-गोंडा रोड पर 15.21 करोड़, अयोध्या-गोरखपुर (बस्ती) रोड पर 15 करोड़ व अयोध्या-सुल्तानपुर रोड पर 14.69 करोड़ रुपए के जरिए भव्य गेट कॉम्प्लेक्से का निर्माण कराया जाएगा। उल्लेखनीय है कि निर्माण के उपरांत इन सभी गेट कॉम्प्लेक्स का नाम रामायण काल व पौराणिक काल के किरदारों के नाम पर रखा जाएगा।

जमीन अधिग्रहण का काम पूरा : उल्लेखनीय है कि सभी प्रवेश द्वारों का निर्माण नेशनल हाईवे अथॉरिटी ऑफ इंडिया (एनएचआईए) की ओर से तैयार डिजाइन व मानकों के अनुसार होगा। इसमें पीडब्लयूडी विभाग सहयोगी बनकर अयोध्या की वास्तुकला को डिजाइन में समावेश करेगा। चिह्नित जगहों पर गेट कॉम्पलेक्स निर्माण के लिए जमीन खरीद प्रक्रिया को पूर्ण करने के लिए 67 करोड़ का बजट स्वीकृत किया गया था, जबकि यहां जनसुविधाएं विकसित करने के लिए 73 करोड़ की अलग से व्यवस्था की गई है। इस क्रम में शासन से 50 करोड़ की धनराशि अवमुक्त की गई थी और अब इसी के जरिए लगभग 45 करोड़ रुपए खर्च कर अयोध्या-गोंडा रोड पर, अयोध्या-गोरखपुर (बस्ती) रोड पर तथा अयोध्या-सुल्तानपुर रोड पर कार्य शुरू करते हुए कॉन्ट्रैक्टर्स के निर्धारण की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है।

इस प्रक्रिया से आबद्ध किए जाने वाले कॉन्ट्रैक्टर्स को 100 दिनों की अवधि के अंदर इस कार्य को पूर्ण करना होगा। वहीं, लखनऊ रोड पर फिरोजपुर, रायबरेली रोड पर सरियावां व अंबेडकरनगर रोड पर राजेपुर के पास, सुल्तानपुर रोड पर मैनुद्दीनपुर, बस्ती रोड पर इस्माइलपुर व गोंडा रोड पर कटरा भोगचंद के पास जमीन अधिग्रहण किया गया है।

द्वारों से प्रवेश करते ही भक्तों को होगी दिव्य अनुभूति : सीएम योगी के निर्देशन में बनी विशिष्ट कार्योयोजना के अनुसार हर प्रवेश द्वार के लिए पांच-पांच एकड़ जमीन अधिग्रहीत की जा रही है। यह द्वार त्रेतायुगीन परिकल्पना के आधार पर विकसित होंगे। इन द्वारों से प्रवेश करते ही रामायण काल की अनुभूति भक्तों को हो, ऐसा प्रयास किया जा रहा है। गेट के पास पार्किंग से लेकर जन सुविधाओं का भी इंतजाम होगा। इसके अलावा टॉयलेट और पेयजल की व्यवस्था भी होगी। साथ ही यहां ग्रीन बेल्ट व ग्रीनरी इनेबल्ड डिवाइडर्स को भी विकसित किया जाएगा। इसके साथ ही, इन मार्गों पर ई-मोबिलिटी को बढ़ावा देते हुए ई-व्हीकल्स के दृष्टिगत चार्जिंग प्वॉइंट्स भी बनाए जाएंगे तथा फूड कोर्ट की भी स्थापना की जाएगी।

इन पौराणिक व रामायण काल के पात्रों के नाम से अयोध्या में बनेंगे प्रवेश द्वार…
-लखनऊ-अयोध्या मार्ग पर श्रीराम द्वार नाम से भव्य गेट कॉम्पलेक्स का निर्माण किया जाएगा।
-गोरखपुर से अयोध्या मार्ग पर हनुमान द्वार नाम से भव्य गेट कॉम्पलेक्स का निर्माण प्रस्तावित है।
-गोंडा से अयोध्या मार्ग पर लक्ष्मण द्वार नाम से भव्य गेट कॉम्पलेक्स के निर्माण को सुनिश्चित किया जाएगा।
-प्रयागराज से अयोध्या मार्ग भरत द्वार नाम से भव्य गेट कॉम्पलेक्स का निर्माण किया जाएगा।
-अंबेडकरनगर से अयोध्या मार्ग पर जटायु द्वार नाम से भव्य गेट कॉम्पलेक्स का निर्माण प्रस्तावित है।
-रायबरेली से अयोध्या मार्ग पर गरुण द्वार नाम से भव्य गेट कॉम्प्लेक्स के निर्माण को सुनिश्चित किया जाएगा।