युवाओं के लिए सदाबहार सौंदर्य का नुस्खा

0
205

गर्मी के मौसम में भीषण गर्मी और लू के साथ तपती धूप सुंदरता पर विपरीत प्रभाव डालती है। हम घरेलू उपायों द्वारा अपने सौंदर्य की कैसे रक्षा करें। इस विषय पर बहुत ही रोचक और लाभकारी जानकारी डॉ रजनी पोरवाल मुख्य चिकित्साधिकारी श्रीनाथ आयुर्वेद चिकित्सालय भगवत दास घाट रोड सिविल लाइंस कानपुर ने दी है।

तपती दोपहरी में ऐसे निकले : गर्मी के मौसम में जब भरी दुपहरी घर से बाहर निकलना हो तो केवल चेहरे और गालो की कोमल त्वचा ही नहीं शरीर के दूसरे अंगों की त्वचा पर भी बुरा प्रभाव पड़ता है। इससे बचने के लिए भरपूर पानी पीकर घर से निकले। गरमा गरम खाना खाकर या तुरंत दूध पीकर घर से न निकले। खाना खाने या दूध पीने के आधे घंटे बाद ही घर से निकले, बिल्कुल खाली पेट भरी दुपहरी में घर से निकलना स्वास्थ्य के लिए अच्छा नहीं है। व्रत या उपवास की स्थिति में जब भी पूरी तरह खाली होता है तो घर से नहाने के लिए और निकलना आवश्यक हो तो भरपूर मात्रा में पानी पीकर ही घर से निकले।

सौंदर्य रक्षा का कारगर उपाय : भीषण गर्मी और तपती दोपहर में घर से निकलने से पहले 20 मिली गुलाब जल और 50 मिली शीतल पानी से सूती कपड़ा भींगोले और हल्का सा निचोड़ लें और इस कपड़े को कड़ी धूप से बचाव के लिए पूरे सिर व चेहरे पर अच्छी तरह लपेट ले गर्मी में आपकी कोमल सुंदर गोरी स्किन की रक्षा करने के साथ-साथ अल्ट्रावायलेट के दुष्प्रभाव से भी बचाव करता है। हाथों और शरीर के दूसरे खुले अंगों की त्वचा को धूप और गर्मी के प्रकोप से बचाने के लिए भी इस नुस्खे का प्रयोग कर सकते हैं।

तपती धूप से जब घर लौटे : दोपहर धूप और गर्मी लपट मैं काम करने के बाद के बाद घर लौटने पर एक खीरा और 50 ग्राम ताजा हरा पुदीना का पेस्ट बनाएं और उसे चेहरे हाथों और शरीर के दूसरे अंगों पर जो सीधे भीषण धूप के संपर्क में थे वहां मोटा मोटा लेप करें 10 से 15 मिनट में यह लिए सूखने लगता है तब एक कप ठंडा दूध लेकर इसे पुनः गिला करें और अच्छी तरह शरीर की मालिश करें 15 से 20 मिनट मालिश करने के बाद साधारण जल से स्नान करले साबुन शैंपू का इस्तेमाल ना करें।

नई उम्र में चमत्कारी नुस्खा : गर्मी के मौसम में स्नान करने से पूर्व चंदन और 100 ग्राम मुल्तानी मिट्टी का दूध के साथ पेस्ट बनाएं और इस पेस्ट को पूरे शरीर पर कोमलता कोमलता के साथ रगड़ रगड़ कर लगाएं और कम से कम 15 मिनट से 30 मिनट पर पूरे शरीर पर इस लेप को अच्छी तरह रगड़ते रहे सूखने पर दूध या शीतल जल से भिगोते रहे। आधा घंटे के बाद शीतल जल से स्नान कर ले यह धूप और लू से झुलसी और खराब हुई त्वचा को कोमल नरम और मुलायम रखने चमत्कारी नुस्खा है।

युवाओं के लिए सदाबहार सौंदर्य का नुस्खा : गुलाब की फूल की कोमल पंखुड़ियों को दूध और एक चम्मच चिरौजी के साथ पेस्ट बनाएं और सिर से लेकर पैर के अंगूठे तक पूरे शरीर पर अच्छी तरह लगावे सूखने पर दूध या ठंडे पानी या नारियल पानी से सूखे हुए पेस्ट को गीला कर कर त्वचा की मालिश करें। यह उपाय धूप में काम करने वाली, धूप में ज्यादा समय व्यतीत करने वाली युवा लड़कियों के लिए बहुत कारगर है।