बुंदेलखंड और कानपुर को आजादी के बाद की सरकारों ने लूटा

0
48

लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मंगलवार को कानपुर में बूथ अध्यक्ष सम्मेलन में कहा कि आज मैं यहां चेतावनी देता हूं, जो सिटीजनशिप एक्ट के खिलाफ भावनाओं को उकसाकर खिलवाड़ करने का काम कर रहे हैं, उन अब्बाजान और चचाजान से सरकार सख्ती से निपटना जानती है। उन्होंने कहा कि पहले हर तीसरे दिन दंगे होते थे, पर हमारी सरकार में कोई दंगा नहीं हुआ। ओवैसी सिर्फ समाजवादी पार्टी के साथी हैं।

मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि कानपुर, बुंदेलखंड का क्षेत्र बहुत महत्वपूर्ण है, क्योंकि 1857 के स्वतंत्रता संग्राम में झांसी की रानी ने अंग्रेज़ी सल्तनत की चूलें हिलाईं तो बिठूर भी किसी से पीछे नहीं रहा। उन्होंने कहा कि यह क्षेत्र अकूत प्राकृतिक सम्पदाओं से परिपूर्ण होने के कारण एक विशेष क्षेत्र हो सकता था, लेकिन आज़ादी के बाद की सरकारों ने इसे लूटकर खोखला कर दिया, लेकिन आज प्रधानमंत्री के नेतृत्व में ये क्षेत्र विकास की ओर अग्रसर है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि राष्ट्रीय अध्यक्ष नड्डा ने कोरोना में भारतीय जनता पार्टी के प्रत्येक कार्यकर्ता को मानवता को बचाने का मंत्र दिया। यही कारण था कि केंद्र और राज्य सरकार के साथ सिर्फ बीजेपी कार्यकर्ता ही काम कर रहा था, अन्य राजनीतिक दलों के लोग सिर्फ हवा हवाई बाते कर रहे थे।

उन्होंने कहा कि 2014 में जो प्रधानमंत्री ने कहा, 2019 तक वो सारे काम हो गए। 2019 में जो कहा 2021 तक वो सब पूरे हो रहे हैं। हम हमेशा यही कहते थे रामलला हम आएंगे, मंदिर वहीं बनाएंगे। आपने देखा कि प्रधानमंत्री ने उस सपने को साकार कर दिया। उन्होंने कहा कि कोरोना में फ्री टेस्ट फ्री, वैक्सीन फ्री और फ्री राशन दिया गया। यह सिर्फ प्रधानमंत्री के ही कारण हो पाया। प्रधानमंत्री मोदी जी के अभियान को अब घर-घर पहुंचाने का काम करना है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि दीपावली से होली तक प्रदेश सरकार 15 करोड़ लोगों को फ्री राशन देने का काम करेंगे। इस राशन में एक किलो दाल, तेल, नमक और चीनी भी दिया जाएगा। उन्होंने जनता से संवाद करते हुए कहा कि संकट के समय का साथी कौन। संकट की साथी जब भाजपा है तो वोट पाने का अधिकारी भी भाजपा है। उन्होंने कहा कि 2019 में जो बूथ अध्यक्षों ने करके दिखाया था, वही संकल्प फिर से लेने के लिए आये हैं। प्रधानमंत्री जी ने यही मंत्र दिया था, बूथ जीता तो चुनाव जीता।

वहीं कानपुर क्षेत्रीय बीजेपी कार्यालय कार्यक्रम में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि अटल जी ने एक बात कही थी सिद्धांतविहीन राजनीति मौत का फंदा होती है। आजादी के बाद मूल्यों और आदर्शों और भारत के प्रति सर्वस्व समर्पण करने वाला कोई दल है, वो भारतीय जनता पार्टी है।

हम राष्ट्रवाद पर विचार करते हैं, वो परिवारवाद परः भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा ने बूथ अध्यक्ष सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि हमने रानी झांसी की कहानी पढ़ी है, सुनी है, वो सिर्फ उत्तर प्रदेश, बुंदेलखंड ही नहीं, पूरा देश याद रखता है। यहीं बुंदेलखंड के चित्रकूट में भगवान श्रीराम ने वनवास बिताया, संत तुलसीदास ने रामचरित मानस की रचना की… इस धरती को नमन है।

भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि यह बूथ अध्यक्ष सम्मेलन नहीं, जनसभा है। इस भीड़ को पूरे देश को देखना चाहिए। यह सभा नहीं हैं, यह हमारे वीरों की फौज है। अभी तो सिर्फ बूथ अध्यक्ष ही आये हैं, जब बूथ समिति आएगी तो क्या होगा। देश में 10 लाख 40 हजार बूथ हैं। भारतीय जनता पार्टी के पास 8 लाख 50 हजार बूथ हैं। आने वाले समय मे पूरे बूथों पर काम हो जाएगा।

उन्होंने कहा कि कुछ लोग परिवारवाद से प्रेरित हैं। भड़काने वालों से निपटना भारतीय जनता पार्टी जानती है। हम राष्ट्रवाद पर विचार करते हैं, वो परिवारवाद पर विचार करते हैं। हम राष्ट्र उत्थान की बात करते हैं, उन्हें जिन्ना याद आते हैं। पटेल ने देश को जोड़ा, जिन्ना ने देश को तोड़ा। ऐसे जिन्नावादी लोगों को सबक सिखाना होगा।

उन्होंने कहा कि कोरोना का कालखण्ड भी आपने देखा होगा। जब सभी पार्टियां होम आइसोलेशन में चली गई थीं। कोई भी मदद को घर से बाहर नहीं निकला, लेकिन हमारी पार्टी के कार्यकर्ता अपनी जान की परवाह किए बिना सेवा में जुटे रहे। जिन्ना को याद करने वाले सिर्फ परिवारवाद तक ही सीमित रह गए हैं। उन्हें प्रदेश के विकास से कोई लेनादेना नहीं था। ऐसे लोगों को चुनाव में जवाब देना राष्ट्रवादी ताकतों का काम होता है। इसे हम सबको याद रखना होगा।

उन्होंने कहा कि किसान नेता बहुत लोग कहलाये। नाम के आगे किसान नेता लगाकर वर्षों राजनीति करते आये, लेकिन किसानों की हितैषी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी हैं। कांग्रेस चुनाव आने पर कर्जमाफी कर किसानों का मजाक उड़ा रही है।